Sarswati Samman important facts I सरस्‍वती सम्‍मान 2017

सरस्वती सम्मान: आज अपने पाठकों के समक्ष Sarswati samman, saraswati samman 2017, saraswati samman 2018, saraswati samman award 2017, saraswati samman award, saraswati samman prize money, saraswati samman winner list, saraswati samman 2018 winner name, saraswati samman 2014 से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्यों को आपके समक्ष प्रस्तुत कर रहा है:

sarswati-samman-2017

सरस्‍वती सम्‍मान

 1.सरस्‍वती सम्मान के.के.बिड़ला फाउंडेशन द्वारा भारतीय संविधान आठवीं अनुसूची में शामिल भाषाओं में प्रकाशित उत्कृष्ट साहित्यिक कृति के लिए दिया जाता है । Click here for read all important gk questions and answer

2. सरस्वती सम्मान की स्थापना 1991 में के. के. बिरला फाउंडेशन द्वारा की गई थी । इस पुरस्‍कार में सम्मान स्वरूप 15 लाख रुपये, एक प्रशस्ति पत्र और एक ताम्र पत्र दिया जाता है। 


3. सरस्वती सम्मान सबसे पहले वर्ष 1991 में हरिवंश राय बच्चन को उनकी चार खंडों की आत्मकथा क्या भूलूंक्या याद करूं, नीड़ का निर्मण फिर, बसेरे से दूरऔर दशद्वार से सोपान तक के लिए दिया गया था । 

4. वर्ष 2016 में कोंकणी के जाने-माने साहित्यकार महाबलेश्वर सैल को उनके उपन्यास ‘हाउटन’ के लिए सरस्वती सम्मान दिया गया था । 

5. वर्ष 2015 में डोगरी भाषा की साहित्यकार पद्मा सचदेव को उनकी आत्मकथा ‘चित्त-चेत’ के लिए सरस्वती सम्मान दिया गया था । 

6. सरस्‍वती सम्‍मान से सम्‍मानित पहली महिला मलयालम भाषा की प्रतिभावान कवयित्रि बालामणि अम्‍मा को वर्ष 1995 में उनकी काव्‍य संग्रह निवेद्यम के लिए दिया गया था । Read International Gandhi Shanti Prize 2018


वर्ष 2017 का सरस्‍वती सम्‍मान 

·वर्ष 2017 का सरस्‍वती सम्‍मान गुजरात के प्रसिद्ध साहित्यकार व पदमश्री से सम्मानित सितांशु यशश्चंद्र को उनके काव्य संग्रह वाखर के लिए मिला है । वर्ष 2017 का सरस्‍वती सम्‍मान 27वां सरस्वती सम्मान है। इसकी पुरस्‍कार को दिए जाने की घोषणा 27 अप्रैल 2018 को ही कर दिया गया था । 


·सितांशु यशश्चंद्र को वर्ष 1998 में कवि सम्मान और वर्ष 1996 में राष्ट्रीय सद्भावना पुरस्कार भी मिल चुका है। Read ALL Nobel Prize Winner 2018 in details

·वर्ष 1987 में सितांशु यशश्चंद्र को काव्य संग्रह जटायु के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्‍मानित किया गया था । वर्ष 1987 में ही गुजराती साहित्य में सर्वोच्च पुरस्कार रंजीतराम सुवर्ण चंद्रक भी दिया गया था। 

·पुरस्कार विजेताओं का चयन लोकसभा सचिवालय के पूर्व महासचिव सुभाष सी कश्यप की अध्यक्षता में 13 सदस्यीय चयन परिषद या चयन समिति द्वारा किया गया । Read Winner of ICC Award 2018

सरस्वती सम्मान विजेताओं की सूची 

क्र.सं. वर्ष विजेताओं का नाम साहित्‍यिक कृति का नाम भाषा
1 1991 डॉ हरिवंश राय बच्‍चन चार खंडों की आत्मकथा हिन्‍दी
2 1992 रमाकान्‍त रथ श्री राधा(काव्य) उडिया
3 1993 विजय तेंदुलकर Kanyadaan(प्ले) मराठी
4 1994 हरभजन सिंह रुख ते ऋषि(कविता संग्रह) पंजाबी
5 1995 बालामणि अम्‍मा निवेद्यम (काव्‍य संग्रह) मलयालम
6 1996 डॉ शमशुर रहमान फारूकी शीर-ए शोर-अंजेज़ उर्दू
7 1997 मनुभाई पंचोली दर्शक कुरुक्षेत्र गुजराती
8 1998 शंख घोषगंधर्बा कबिता गुच्चा(कविता संग्रह) बांग्‍ला
9 1999 डॉ इन्दिरा पार्थ सारथीRamanujar(प्ले) तमिल
10 2000 मनोज दास अमृता फला (उपन्यास) उडिया
11 2001 डॉ दिलीप कौर कथा कह उर्वशी(उपन्यास) पंजाबी
12 2002 महेश एलकुंचवार युगांत(प्ले) मराठी
13 2003 गोन्विद चन्‍द्र पाण्‍डे भागीरथी(कविता संग्रह) संस्‍कृत
14 2004 सुनील गंगोपाध्‍याय प्रथम अलो(उपन्यास) मराठी
15 2005 के. अय्यप्‍पा पणिकर अय्यप्पा पानिकारुदे कृतिका(कविता संग्रह) मलयालम
16 2006 जगन्‍नाथ प्रसाद दास परिक्रमा(कविता संग्रह) उडिया
17 2007 नैयर मसूद ताओ चमन की मैना(लघु कथा संग्रह) उर्दू
18 2008 लक्ष्‍मी नंदन बोरा कायाकल्प(उपन्यास) असमी
19 2009 सुरजीत पातर लफ़्ज़ों दी दरगाह पंजाबी
20 2010 प्रो एस.एल .भयरप्‍पा "Mandra" कन्‍नड
21 2011 ए.ए.मानवालन इरमा कथायुम इरामयाकलुम तमिल
22 2012 संगठाकुमारी "Manalezhuthu(कविता संग्रह) मलयालम
23 2013 गोविंद मिश्र "धूल पौढो पार(उपन्यास) हिन्‍दी
24 2014 वीरप्‍पा मोइली रामायण महावंशम (काव्य) कन्‍नड
25 2015 पद्मा सचदेव चित्‍त चेत (आत्‍मकथा) डोगरी
26 2016 महाबलेश्‍वर सैल हाउटन (उपन्‍यास) कोंकणी
27 2017 सितांशु यशश्चंद्र काव्य संग्रह वाखर गुजराती
282018 
    डां के. शिवा रेड्डी
काव्य संग्रह पक्‍काकी ओटीगिलितेतेलुगू



Daily GK Quiz, Daily Current Affairs Quiz, Reasoning & Math test, Most Important GK Questions with answer इत्‍यादि के लिए अपडेट व Website से जुड़े रहने के लिए हमारे सोशल मीडियाा Facebook Page, Facebook Group या You tube को जरूर Follow करें । 
Facebook Page:  Please Click here
Facebook GroupClick here

एक विशेष निवेदन: यदि इस Website में किसी किसी प्रकार की त्रुटि हो या कोई सलाह देना चाहते हो तो प्लीज, कमेंट जरूर करें

0 टिप्पणियाँ: