Ad Code

2022 चैत्र एवं अश्विन नवरात्रि : 2022 में नवरात्रि कब से चालू है? 2022 Mein Navratri Kab Se Chalu Hai

पर्व यानी की त्‍योहार की श्रृंखला में आज gkforyou.com अपने प्रिय पाठको के लिए 2022 में नवरात्रि कब से चालू है?  2022 Mein Navratri Kab Se Chalu Hai के बारे में पूरे विवरण के साथ बताने जा रहा हूँ । इस आर्टिकल में Navratri Kab Hai, नवरात्रि कब से चालू है Navratri Kab Se Chalu Hai,  नवरात्रि कब से है Navratri Kab Se Hai, 2022 में नवरात्रि कब है 2022 Mein Navratri Kab Hai 2021 इत्‍यादि प्रश्‍नों का जानकारी प्राप्‍त होगी ।

तो चलित मुख्‍य शीर्षक की ओर और जानते है कि 2022 में नवरात्रि कब से चालू है?  2022 Mein Navratri Kab Se Chalu Hai ।
2022 चैत्र नवरात्रि एवं अश्विन नवरात्रि : 2022 में नवरात्रि कब से चालू है?  2022 Mein Navratri Kab Se Chalu Hai

2022 चैत्र नवरात्रि एवं अश्विन नवरात्रि : 2022 में नवरात्रि कब से चालू है?  2022 Mein Navratri Kab Se Chalu Hai


तो दोस्‍तो आपको बता दूं कि नवरात्रि की पूजा हर साल मुख्‍य रूप से दो नवरात्रि पूजा होती है । पहला चैत्र नवरात्रि पूजा इसे वासंतीय नवरात्रि पूजा भी कहा जाता है और दूसरा अश्विन नवरात्रि पूजा जिसे शरद नवरात्रि पूजा भी कहा जाता है । 


नवरात्रि पूजा का महत्‍व :


नवरात्रि पूजा का हिंदु धर्म यानी की सनातन धर्म में बड़ा ही महत्‍व होता है । नवरात्रि की पूजा नौ दिनों की होती है सभी नौ दिनों में मां दुर्गा के अलग-अलग नौ रूपों की पूजा-अर्चना की जाती है । नवरात्रि के नौ स्‍वरूपों का पूजा की जाती है जिसे हम दुर्गा सप्तशती ग्रन्थ के देवी कवच स्तोत्र में निम्नांकित श्लोक में नवदुर्गा के नौ स्‍वरूपों का नाम क्रमवार है जो इस प्रकार है :

प्रथमं शैलपुत्री च द्वितीयं ब्रह्मचारिणी।

तृतीयं चन्द्रघण्टेति कूष्माण्डेति चतुर्थकम् ।।

पंचमं स्कन्दमातेति षष्ठं कात्यायनीति च।

सप्तमं कालरात्रीति महागौरीति चाष्टमम् ।।

नवमं सिद्धिदात्री च नवदुर्गा: प्रकीर्तिता:।

उक्तान्येतानि नामानि ब्रह्मणैव महात्मना ।। 


नवरात्रि की पूजा पूरे भारतवर्ष में धूमधाम से की जाती है । हमलोग सभी जानते है कि मां दुर्गा सुख,समृद्धि और धन की देवी है और जिनपर ये प्रसन्‍न होती हैं उनपर अति विशेष कृपा करती है और कष्ट, रोग, शत्रु से मुक्ति दिलाती हैं । पौराणिक ग्रंथों के अनुसार चैत्र नवरात्रि के दिन ही मां आदिशक्ति प्रकट हुई थी और ब्रह्मा जी के अनुरोध पर मां आदिशक्ति ने सृष्टि का निर्माण किया था।


2022 में चैत्र नवरात्रि कब से चालू है? Chaitra navratri Kab se chalu Hai


हिंदु पंचांग के चैत्र माह में आने वाली नवरात्रि पूजा को चैत्र नवरात्रि पूजा कहा जाता है । हिंदु पंचांग के अनुसर के 2022 में चैत्र नवरात्रि का पूजा चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुरू होगी  अर्थात  2 अप्रैल 2022 से 10 अप्रैल 2022 तक चैत्र नवरात्रि पूजा किया जाएगा है ।  इस वर्ष 2022 में चैत्र नवरात्रि में किसी भी दिन का कम नहीं हो रहा है ।

चैत्र नवरात्रि पूजा दिनवार की पूरा विवरण निम्‍नवत है :

क्रमवार तिथि दिन नवदुर्गा के नौ स्‍वरूपों का नाम
प्रथम पूजा 2 अप्रैल 2022 शनिवार मां शैलपुत्री
द्वितीय पूजा 3 अप्रैल 2022 रविवार मां ब्रह्मचारिणी
तृतीय पूजा 4 अप्रैल 2022 सोमवार मां चंद्रघंटा
चतुर्थ पूजा 5 अप्रैल 2022 मंगलवार मां कूष्मांडा
पंचम पूजा 6 अप्रैल 2022 बुधवार मां स्कंदमाता
षष्‍ठ पूजा 7 अप्रैल 2022 गुरूवार मां कात्यायनी
सप्‍तमी पूजा 8 अप्रैल 2022 शुक्रवार मां कालरात्रि
अष्‍टमी पूजा 9 अप्रैल 2022 शनिवार मां महागौरी
नवमी पूजा 10 अप्रैल 2022 रविवार मां सिद्धिदात्री

चैत्र नवरात्रि पूजा के कलश स्‍थापना का शुभ मुहूर्त : 

नवरात्रि पूजा में कलश स्‍थापना का विशेष महत्व है । हिंदु पंचांग के अनुसार चैत्र नवरात्रि में कलश स्‍थापना का शुभ मुहूर्त 2 अप्रैल को सुबह 6 बजकर 10 मिनट से 8 बजकर 31 मिनट तक है जबकि कलश स्‍थापना का अभिजीत मुहूर्त  2 अप्रैल को दोपहर 12 बजे से 12 बजकर 50 मिनट तक होगा ।


2022 Mein Navratri Kab Se Chalu Hai

 2022 में शरद नवरात्रि कब ? या अश्विन नवरात्रि कब से चालू है ? Sharad navratri Kab se chalu Hai

हिंदु पंचांग के अश्‍विन माह में आने वाली नवरात्रि पूजा को अश्विन नवरात्रि  यानी की शरद नवरात्रि पूजा कहा जाता है । हिंदु पंचांग के अनुसर के 2022 में शरद नवरात्रि का पूजा अश्विम मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुभारंभ होगी  यानी कहे  तो इस वर्ष शरद नवरात्र 26 सितम्‍बर 2022 से 3 अक्‍टूबर 2022 तक मां दुर्गा की उपासना की जाएगी ।  

अश्‍विन नवरात्रि पूजा दिनवार की पूरा विवरण निम्‍नवत है :

क्रमवार तिथि दिन नवदुर्गा के नौ स्‍वरूपों का नाम
प्रथम पूजा 26 सितम्‍बर 2022 सोमवार मां शैलपुत्री
द्वितीय पूजा 27 सितम्‍बर 2022 मंगलवार मां ब्रह्मचारिणी
तृतीय पूजा 28 सितम्‍बर 2022 बुधवार मां चंद्रघंटा
चतुर्थ पूजा 29 सितम्‍बर 2022 गुरूवार मां कूष्मांडा
पंचम पूजा 30 सितम्‍बर 2022 शुक्रवार मां स्कंदमाता
षष्‍ठ पूजा 1 अक्‍टूबर 2022 शनिवार मां कात्यायनी
सप्‍तमी पूजा 2 अक्‍टूबर 2022 रविवार मां कालरात्रि
अष्‍टमी पूजा 3 अक्‍टूबर 2022 सोमवार मां सिद्धिदात्री
नवमी/विजय दशमी 4 अक्‍टूबर 2022 मंगलवार ----

इस वर्ष 2022 में नवमी और विजय दशमी एक ही दिन पड़ रहा है । नवरात्रि व्रत का पारण 4 अक्‍टूबर 2022 को होगा ।

चैत्र नवरात्रि पूजा के कलश स्‍थापना का शुभ मुहूर्त :

नवरात्रि पूजा में कलश स्‍थापना का विशेष महत्व है । हिंदु पंचांग के अनुसार शरद नवरात्रि में कलश स्‍थापना का शुभ मुहूर्त 26 सितम्‍बर 2022 को सुबह 6 बजकर 24 मिनट से 7 बजकर 15 मिनट तक और दोहपर के 12 बजे  से 1 बजे रहेगा । इस अवधि में कलश स्‍थापना या घटस्‍थापना करना शुभ रहेगा ।


सर्व मंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके ।

शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते।। 

यदि पसंद आया  हो तो अपना वक्‍तव्‍य जरूर दें । जय माता दी । 
आप पर माता रानी की कृपा बनी रहे ।
Reactions

Post a Comment

0 Comments